भारत के पूर्व क्रिकेटर एमएस धोनी ने खेती और कृषि में रुचि ली, क्योंकि उन्हें भारत में कोरोनावायरस लॉकडाउन के दौरान रांची में अपने फार्महाउस पर ट्रैक्टर की सवारी करते और काम करते हुए देखा गया था।

यह भी बताया गया कि धोनी अपने फार्महाउस पर उगाई गई सब्जियों और फलों को यूएई और अन्य खाड़ी देशों में निर्यात करेंगे। स्ट्रॉबेरी, गोभी, टमाटर, ब्रोकोली, मटर, हॉक और पपीता जैसे उत्पाद बिक्री के लिए उपलब्ध होंगे।

एमएस धोनी ने अपने इंस्टाग्राम पर पोस्ट किए एक वीडियो में यह कबूल किया कि अगर वह ऐसे ही अपने खेत में आते रहते हैं, और स्ट्रॉबेरी खाते रहे, तो बाजार में बेचने के लिए कोई स्ट्रॉबेरी नहीं बचेंगी। वीडियो में धोनी खुद स्ट्रॉबेरी को तोड़ कर खाते हुए देखे जा सकते हैं।