संयुक्त अरब एमिरेट्स में चल रही आईपीएल २०२० टूर्नामेंट में दिल्ली कैपिटल्स और सनराइज़र्स हैदराबाद की टीमों को बड़ा सदमा लगा है क्यूंकि दोनों के ही दो अनुभवी और ज़रूरी गेंदबाज़ घायल होकर टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं।

पहले दिल्ली कैपिटल्स की बात करते है जिन्हे उनके लेगस्पिनर अमित मिश्रा की सेवाओं से हाथ धोना पड़ा है। की रिपोर्ट्स के मुताबिक, मिश्रा को कोलकाता के विरुद्ध फील्डिंग करते वक़्त सीधे हाथ की ऊँगली में चोट लग गयी थी। इसी कारणवश वह सिर्फ २ ओवर कर पाए, पर उसमें भी उन्होंने शुबमान गिल का विकेट चटकाया था। DC को उम्मीद थी की यह चोट जल्द ठीक हो जाएगी, पर टीम के एक सूत्र ने कुछ और ही बताया।

उन्होंने ANI से कहा, “रिपोर्ट्स आ चुकी हैं और यह बुरी खबर है। मिश्रा बाकी टूर्नामेंट के लिए उपलब्ध नहीं होंगे और हमें एक प्रतिस्थापन पर नजर डालने की जरूरत होगी। सबसे बुरी बात यह है कि वह काफी लय में दिख रहे थे और गेंदबाजी भी अच्छी कर रहे थे। उनका अनुभव कुछ ऐसा था जो इन यूएई विकेटों के बीच में न केवल उनकी मदद कर रहा था, बल्कि टीम में युवाओ को भी वह मार्गदर्शित कर रहे थे।”

मिश्रा के पास आईपीएल में सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले बॉलर का मौका था, उनके पास अब तक १६० विकट थे, जो मौजूदा रिकॉर्ड धारी लसिथ मलिंगा के १७० विकटो से मात्र १० विकट दूर थे।

इसके अलावा सनराइज़र्स हैदराबाद को भी सदमा लगा है क्यूंकि उनके सबसे अच्छे फ़ास्ट बॉलर भुवनेश्वर कुमार कूल्हे की चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं। कुमार को यह चोट चेन्नई सुपर किंग्स के विरुद्ध मिली जीत के दौरान लगी थी।

भुवनेश्वर कुमार कूल्हे की चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर

भुवनेश्वर ने 19 वें ओवर में चोट का सामना किया और में मैदान से चले गए। उन्होंने गेंदबाजी करने की कोशिश की और फिजियो द्वारा तय किए जाने से पहले उन्हें दो बार अपने दौड़ में रुकना पड़ा और वह खेल में आगे भाग भी नहीं ले पाए।

भुवी कूल्हे की चोट की वजह इस साल के टूर्नामेंट में आगे हिस्सा नहीं ले पाएंगे। यह हमारे लिए एक बहुत बड़ा झटका है क्यूंकि कुमार तेज़ गेंदबाजी इकाई का नेतृत्व करते है और नेतृत्व समूह का एक अभिन्न अंग भी है,” हैदराबाद टीम के एक सूत्र ने ANI को बताया।