ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर डीन जोन्स का शुक्रवार को हृदय गति रुकने के बाद 59 वर्ष की आयु में मुंबई में निधन हो गया। जोन्स आईपीएल के आधिकारिक प्रसारणकर्ता के कमेंट्री पैनल के हिस्से के रूप में मुंबई में थे। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के लिए १९८४ से १९९२-९४ तक 52 टेस्ट खेले और 11 शतकों सहित 3631 रन बनाए और 164 वन-डे में 6063 रन, सात शतक और 46 अर्द्धशतक बनाए।

बहुत दुख के साथ हम श्री डीन मर्विन जोन्स एएम के निधन की खबर साझा करते हैं। उनका आकस्मिक निधन हो गया। हम उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं और इस कठिन समय में उनका समर्थन करने के लिए तैयार खड़े हैं। हम आवश्यक व्यवस्था करने के लिए ऑस्ट्रेलियाई उच्चायोग के संपर्क में हैं।” स्टार इंडिया ने एक बयान में कहा। 

डीन जोन्स दक्षिण एशिया भर में क्रिकेट के विकास के साथ खुद को जोड़ने वाले खेल के महान राजदूतों में से एक थे। वह नई प्रतिभाओं की खोज करने और युवा क्रिकेटरों का पोषण करने के बारे में भावुक थे। वह एक चैंपियन कमेंटेटर थे जिनकी उपस्थिति और खेल की प्रस्तुति हमेशा लाखों लोगों के लिए खुशी का विषय थी। वह दुनिया भर में स्टार और उनके लाखों प्रशंसकों द्वारा सभी को याद किया जाएगा। हमारे विचार और प्रार्थना उनके परिवार और दोस्तों के साथ हैं, ” स्टार इंडिया ने अपने बयान में आगे कहा।

एकदिवसीय क्रिकेट के शुरुआती अग्रदूतों में से एक, जोन्स ने सीमित ओवरों के खेल में विकेटों के बीच तेजी से दौड़ लगाने और स्पिनरों को अटैक करना जैसी चीज़ो को आदर्श बना दिया। वे टेस्ट क्रिकेट में भी निपुण टेस्ट क्रिकेटर और मद्रास में भारत के खिलाफ १९८६ के प्रसिद्ध टाई-टेस्ट में प्रचंड गर्मी में उनके दवरा बनाये गए उनके 210 रन, आज भी भारत के खिलाफ भारत में किसी भी ऑस्ट्रेलिआई बल्लेबाज़ द्वारा खेली गयी यादगार पारियो में से एक है।

उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के चयनकर्ताओं और टीम प्रबंधन के साथ अनबन के बाद 30 साल की उम्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से अचानक संन्यास ले लिया।

खेल से रिटायर होने के बाद, जोन्स एक क्रिकेट पंडित बन गया और विभिन्न देशों में कमेंट्री की। उन्होंने 2016 और 2018 में इस्लामाबाद यूनाइटेड को पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) खिताब दिलाने में भी एक कोच की भूमिका निभाई। उन्होंने अफगानिस्तान क्रिकेट टीम को। कोचिंग दी और 2019 में पीएसएल में कराची किंग्स टीम के कोच थे।

क्रिकेटएक्स्ट्रास की तरफ से डीन जोंस को भावभीनी श्रद्धांजलि|