भारत के पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की है।

धोनी ने गायक मुकेश के गीत “मैं पल दो पल का शायर हू” और अमिताभ बच्चन के डायलॉग के साथ पर सुसज्जित किये गए तस्वीरों वाला एक वीडियो डालकर अपना करियर ख़तम करने की घोषणा की।

धोनी ने अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपना पदार्पण बांग्लादेश के विरुद्ध एक दिवसीय मैच में किया था २००४ में और टेस्ट डेब्यू २००५ में श्रीलंका के के खिलाफ किया। उन्हें भारत की कप्तानी २००७ के टी-२० विश्व कप के लिए मिली जब अन्य सीनियर खिलाडियों ने इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेने से मना कर दिया था।

२००७ में धोनी भारत के एकदिवसीय टीम के कप्तान बने और २००८ में टेस्ट टीम की कमान भी उन्हें सौंप दी गयी। अपने कार्यकाल में धोनी ने २००७ के टी२० विश्व कप के अलावा २०११ का विश्व कप और २०१३ की चैंपियंस ट्रॉफी में भारत को जीत दिलाई।

वह 2007 टी 20 विश्व कप, 2011 वर्ल्ड कप और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी में तीनों आईसीसी ट्रॉफी जीतने वाले एकमात्र अंतर्राष्ट्रीय कप्तान हैं।इसके अलावा, उन्होंने 2009 में भारतीय टीम को ICC टेस्ट रैंकिंग में नंबर 1 रैंकिंग तक पहुंचाया और 2011 तक वहीं रहे।

धोनी ने 90 टेस्ट खेले, जिसमें 6 शतकों के साथ 4876 रन बनाए और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 224 का उच्चतम स्कोर बनाया। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट से २०१५ में रिटायरमेंट लिया।  एकदिवसीय मैचों में, उन्होंने 350 मैचों में 10 शतकों के साथ 10773 रन बनाए और 183 * सर्वश्रेष्ठ श्रीलंका का स्कोर बनाया।
उन्होंने 98 टी 20 आई में 1617 रन भी बनाए, जिसमें 2 अर्द्धशतक उनके नाम रहे।

उन्होंने 2017 में विराट कोहली के लिए भारत के सीमित ओवरों की कप्तानी छोड़ दी और 2019 विश्व कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना आखिरी वनडे खेला।

धोनी ने रिटायरमेंट की घोषणा करते हुए यह पोस्ट डाली :